KnowledgeBase

    हेमंत पांडे

    Read This Article in Hindi/ English/ Kumauni/ Garwali

    Hemantpandey

    हेमंत पांडे

     जन्म:  जुलाई 01, 1970
     जन्म स्थान: पिथौरागढ़
     पिता:  -
     माता:  -
     व्यवसाय:  अभिनेता, हास्य अभिनेता
     पत्‍नी  पुष्पा पांडे

    हेमंत पांडे ऐसे इंसान हैं जो किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। उन्होंने कई सालों तक रंगमंच और सिनेमा से जुड़ी कई नामचीन हस्तियों के साथ काम किया है। हेमंत मुख्य तौर पर हिंदी सिनेमा में सक्रिय रहे हैं और पिछले साल विदेशों में हुए रंगमचों में काम किया। आपको बता दें कि हेमंत का जन्म पिथौरागढ़, उत्तराखंड में हुआ। उनका जन्म 1 जुलाई 1970 को हुआ। उनकी पत्नी का नाम पुष्पा पांडे हैं और उनके दो बेटे भी हैं। बचपन से ही हेमंत को अभिनय से खास लगाव था। इसलिए अपने स्कूल और कॉलेज के दौरान उन्होंने कई नुक्कड़ नाटकों और थिएटर शो में कार्य किया।


    शिक्षा


    कॉलेज पूरा करने के बाद जब हेमंत को अहसास हुआ कि पिथौरागढ़ में उन्हें अभिनय करने का मौका नहीं मिलेगा तो वह दिल्ली चले गए। दिल्ली में वह नुक्कड़—नाटक करने वाले लोगों से मिले और फिर उनके साथ काम करने लगे। यही से उनके करियर की शुरुआत हुई।


    लोकप्रियता


    हेमंत का पहचान लोकप्रिय हिंदी टीवी धारावाहिक ‘ऑफिस ऑफिस’ से मिली जो कि 2000 में आॅन एयर हुआ था और इसमें उनके साथ पंकज कपूर भी थे। इसमें उनकी ‘पांडे जी’ की भूमिका काफी लोकप्रिय हुई। इसके बाद हेमंत को काम मिलने लग गया था। इसी के चलते उन्होंने ‘क्या बात है’, ‘हेरा फेरी’, ‘राशी विला’ जैसे टीवी शो में काम किया और अपने सपने को पूरा किया।


    फिल्में


    कॉमेडी करने के लिए हेमंत को बॉलीवुड फिल्मों के आॅफर भी आने लगे और 2001 में उन्होंने मुझे कुछ कहना है, से बॉलीवुड में डेब्यू किया। इस फिल्म के बाद वह कई फिल्मों में नजर आए जिसमें ‘रहना है तेरे दिल में’, ‘आप मुझे अच्छे लगने लगे’, ‘फरेब’, ‘जर्नी ऑफ भांगोवर’ जैसी फिल्में हैं।


    कॉमेडी करने में माहिर हेमंत ने 2012 में कॉमेडी रियलिटी शो ‘कहानी कॉमेडी सर्कस की’ में एक प्रतियोगी के रूप में प्रतिभाग लिया। पिछले साल उन्होंने कुमाऊनी फिल्म ‘गोपी भिना’ (2017) में भी कार्य किया है। इस बारे में वह कहते हैं कि मैं हमेशा अपने गांव देहात के करीब रहा हूं और जब भी मुझे वहां के लिए कुछ करने का समय मिलता है। मैं उसे न नहीं करता।


    संदेश


    मुझे अपने यहां का कुमाउँनी रायता, दुबुक, पुदीना चटनी बहुत पसंद है। जब भी घर जाता हूं तो इसका स्वाद जरूर चखता है। बस मेरी यही ख्वाईश है कि हमारे उत्तराखंड में यह स्वाद हमेशा बना रहे और सालों दर साल उन्नति करे।

    Leave A Comment ?