KnowledgeBase

    राघव जुयाल

    Raghavjuyal

    राघव जुयाल

     जन्म:  जुलाई 10, 1991
     जन्म स्थान: खेतू गांव, पौड़ी
     पिता:  श्री दीपक जुयाल
     माता:  श्रीमती अल्का बक्षी
     व्यवसाय:  डांसर, कोरियोग्राफर, अभिनेता, होस्ट
     अन्य नाम  Crockroaxz
     शैली  स्लो मोशन, पोप्पिंग, ल्य्रिकाल हिप हॉप, डबस्टेप पोप्पिंग

    छोटे और बड़े पर्दे पर अपना नाम बना चुके राघव जुयाल उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में स्थित खेतू गांव के रहने वाले हैं। लेकिन अब उनके माता—पिता उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में रहते हैं। राघव का जन्म देहरादून में 10 जुलाई 1991 में हुआ। डांसर और होस्ट के तौर पर लोकप्रिय हो चुके राघव एक मध्मय वर्गीय परिवार से हैं और उनके पिता दीपक जुआल एक वकील हैं। पढ़ाई छोड़कर डांस में मन लगाने के कारण उनके पिता उनसे काफी सख्ती से पेश आते थे लेकिन मां अलका जो कि एक गृहणी हैं उन्होंने हमेशा राघव का साथ दिया। राघव ने अपनी पढ़ाई लिखाई दून इंटरनेशनल स्कूल से की है और डीएवी कॉलेज से ग्रेजुएशन किया है। देहरादून में पले—बढ़े राघव को अपने गांव खेतू से काफी प्यार है और वह अक्सर छुटिटयों में वहां जाया करते हैं।


    नहीं ले पाए डांस की शिक्षा


    कहते हैं न जहां चाह होती है, वहीं राह होती है। राघव के साथ भी ऐसा ही हुआ तभी तो बिना डांस की पारंगत शिक्षा के भी वह इतने कुशल डांसर बने। राघव कहते हैं कि पढ़ाई में मेरा मन ही नहीं लगता था, लेकिन डांस करने में बड़ा मजा आता था। इसलिए मैं टीवी में डांसिंग शो देखकर उनकी कॉपी करता था।


    ऐसे हुए मशहूर


    राघव लोगों के बीच तब मशहूर हुए जब उन्होंने साल 2012 में डांसिंग बेस्ड रियलिटी शो डीआईडी किया और वहां पर सभी का दिल जीता। इस शो में राघव को मिथुन चक्रवर्ती ने खास तौर पर वाइल्ड कार्ड एंट्री के तौर पर बुलाया था। राघव डीआईडी सीजन 3 के फिनाले में सबसे ज्यादा वोट पाकर राघव सो के सेकेंड रनर अप बनकर उभरे और यहीं से हुई उनकी सफलता की शुरुआत। उसके बाद वह डीआईडी में बतौर स्किपर डीआईडी लीटिल मास्टर और डीआईडी के सुपरकिड्स में भी आएं। राघव इन दिनों स्टारप्लस पर डांस प्लस को होस्ट की चुके हैं और इसके पिछले सीजन में भी वही होस्ट थे। उन्होंने खतरों के खिलाड़ी में भी एक प्रतियोगी के रूप में हिस्सा लिया था।


    फिल्मों में काम


    राघव रमेश सिप्पी की फिल्म सोनाली केबल में काम कर चुके हैं। हालांकि बड़ा ब्रेक उन्हें रेमो निर्देशित फिल्म एबीसीडी 2 में मिला और फिर उनकी झोली में कई फिल्में गिरती गईं। उसके बाद वह वरुण धवन, श्रद्धा कपूर, प्रभु देवा नजर आये। इस साल राघव फिल्म नवाबजादे में नजर आए हैं।


    उत्तराखंडियों के लिए सन्देश


    अपनी प्रतिभा को समझे और उसे निखारने के लिए मेहनत करें। राघव कहते हैं कि उत्तराखंड के लोगों से ज्यादा ईमानदार और मेहनती कोई नहीं होता इसलिए उन्हें किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं रहना चाहिए।

    Leave A Comment ?