Folk Songs

    द्वि दिनाक् ड्यार

    द्वि दिनाक ड्यार शेरूवा दुनी में
    न त्या्र न म्या्र शेरूवा दुनी में
    तेरि माटै की छानि शेरूवा दुनी में
    के मटकूँ छै कानि शेरूवा दुनी में।



    द्वाब लारौ छौ काल शेरूवा दुनी में
    के है रौ छै निहाल शेरूवा दुनी में
    तू नि जागलै झिट शेरूवा दुनी में
    जब होली हिट हिट शेरूवा दुनी में।



    जपि ल्हे कौछी राम शेरूवा दुनी में
    त्वील एकै नि मानि शेरूवा दुनी में
    माय पाड़ी त्वील गाँठ शेरूवा दुनी में
    अब रितै ला्ग बा्ट शेरूवा दुनी में।



    क्वे आपुण नि हुन शेरूवा दुनी में
    खुद कौले एक दिन शेरूवा दुनी में
    हंसिणी उडि जालि शेरूवा दुनी में
    नेकि बदी रै जालि शेरूवा दुनी में।



    चित में जब चड़ाल शेरूवा दुनी में
    धूँ आपणै देखाल शेरूवा दुनी में
    फिर पुछलि पराणि शेरूवा दुनी में
    के छाड़ि गै छै निसाणि शेरूवा दुनी में।



    द्वि दिना्क ड्यार शेरूवा दुनी में
    न त्या्र न म्या्र शेरूवा दुनी में
    तेरि माटै की छानि शेरूवा दुनी में
    के मटकूँ छै कानि शेरूवा दुनी में।

    Related Article

    आ हा रे सभा !

    शेरदा भा्ल छा

    पारवती को मैतुड़ा देश

    इजुकी नराई लागैलि

    जग छु यौ पराई शेरूवा हो

    आस दिनै रे

    कारगिला्क शहीद जवान्

    Leave A Comment ?

    Popular Articles