KnowledgeBase

    सूपा

    सूपे का प्रयोग मुख्यतया अनाज को बीनने, फटकने से कूड़ा-करकट दूर करने के लिए किया जाता है। सूप से कूड़ा-करकट दूर करने की प्रक्रिया को बताड़' कहा जाता है।


    सूपे प्राय: भिमूल, बांस या रिंगाल से तैयार किये जाते हैं। सूपा प्राय: 18 इंच लम्बा, 6 इंच गहरा व 9 इंच चौड़ा होता है, जो प्राय: 75 रुपये में तैयार होता है। आजकल बड़े सूपों की जगह छोटे सूपों का चलन बढ़ गया है साथ ही लोहे के सूपे भी प्रयोग में लाये जाने लगे हैं।


    सूपे का प्रयोग माप-तौल के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। सामान्यत: सूपे सात पसेरी की क्षमता वाले प्रयोग में लाये जाते हैं। अनाज को साफ करने के लिए सूपे का प्रयोग फटक-फटक कर भी किया जाता है। इसे 'फटक्ाण' कहा जाता है।

    Leave A Comment ?