KnowledgeBase

    शेर सिंह पांगती

    Read This Article in Hindi/ English/ Kumauni/ Garwali

    shersinghpangtey

    डॉ. शेर सिंह पांगती

     जन्म:  फरवरी, 1 1937
     जन्म स्थान: ग्राम - मल्ला भैस्कोट
     पिता:  स्व. तेज सिंह पांगती
     माता:  श्रीमती मन्दोदरी देवी
     पति  डॉ. जगदीश चन्द्र भट्ट
     शिक्षा  एम.ए., पी-एच. डी.
     व्यवसाय  इतिहास प्रवक्ता
     मृत्यु  अक्टूबर, 24 2017

    ‌अभी तक पांगती जी की तेरह पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। दो अप्रकाशित पुस्तके प्रकाशन की प्रतिक्षा में हैं। विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में आपकी रचनायें प्रकाशित होती रहती हैं। आपने 2001 में व्यक्तिगत स्तर पर 'ट्राइबल हैरिटेज म्यूजियम' नाम से मुनस्यारी में एक संग्रहालय की स्थापना की है और दरकोट में एक 'लोक कला केन्द्र' की स्थापना भी आपके द्वारा की गई है। आप तीर्थ एवं ऐतिहासिक स्थलों के भ्रमण के अत्यन्त शौकीन हैं।


    सम्मान


    ‌1. कुमाऊं विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा परिसर द्वारा प्रशस्ति-पत्र। (2003)
    2. कुर्माचल सहकारी बैंक, नैनीताल द्वारा सम्मानित। (2007)
    3. 'पहाड़' नैनीताल द्वारा सम्मानित। (2008)
    4. उमेश डोभाल स्मृति ट्रस्ट द्वारा सम्मानित। (2011)
    5. उत्तराखण्ड भाषा संस्थान द्वारा 'गुमानी पंत' पुरस्कार। (2011)
    6. उत्तराखण्ड संस्कृति, साहित्य एवं कला परिषद के मनोनीत सदस्य भी रहे।

    Leave A Comment ?