KnowledgeBase


    धगुला | धागुल | धागुली | धागुले

    uttarakhand traditional jewellery dhagula or dhagule

    धागुले हाथों में पहना जाने वाला थोड़ा वजनी आभूषण है। एक समय यह कुमाऊँ की महिलाओं का प्रिय और प्रसिद्ध आभूषण हुआ करता था। प्रायः यह कड़ा या चूड़ी के आकार का होता है। यह आभूषण चांदी के मोटे ठोस कड़े होते है। इनका वजन दो सौ ग्राम से पांच सौ ग्राम तक रहता हैं। धागुले आब प्रचलन में नहीं हैं।


    uttarakhand traditional jewellery dhagula

    नवजात बालक और बालिका के नामकरण संस्कार के बाद भी ये बच्चों को पहनाया जाता है। बच्चों के धागुले चाँदी से निर्मित होते है और चूड़ी के सामान होते है। बच्चों के धागुले में हलकी कारीगरी और पायल लगाये जाते है जो बच्चों के हाथ हिलने में बजते हैं।


    उत्तराखंड मेरी जन्मभूमि वाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिये यहाँ क्लिक करें: वाट्सएप उत्तराखंड मेरी जन्मभूमि

    हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें: फेसबुक पेज उत्तराखंड मेरी जन्मभूमि

    हमारे YouTube Channel को Subscribe करें: Youtube Channel उत्तराखंड मेरी जन्मभूमि

    Leave A Comment ?