Folk Songs

    शिव के मन माहि बसे

    शिव के मन माहि बसे काशी ।।2।
    आधी काशी में बामन बनिया,
    आधी काशी में सन्यासी। शिव के मन ०
    काही करन को बामन बनिया,
    काही करन को सन्यासी। शिव के मन ०
    पूजा करन को बामन बनिया,
    सेवा करन को सन्यासी। शिव के मन ०
    काही को पूजे बामन बनिया,
    काही को पूजे सन्यासी। शिव के मन ०
    देवी को पूजे बामन बनिया,
    शिव को पूजे सन्यासी। शिव के मन ०
    क्या इच्छा पूजे बामन बनिया,
    क्या इच्छा पूजे सन्यासी। शिव के मन ०
    नव सिद्धि पूजे बामन बनिया,अष्ट सिद्धि पूजे सन्यासी। शिव के मन ०

    Related Article

    सिद्धि को दाता विघ्न विनाशन

    कैले बांधी चीर

    जल कैसे भरूं

    हाँ मोहन गिरधारी

    Leave A Comment ?

    Popular Articles